UP Mahila Samarthya Yojana : यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021

Mahila Samarthya Yojana Registration 2021 | यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना | उत्तर प्रदेश महिला सामर्थ्‍य योजना | Mukhyamantri Mahila Samarthya Scheme | Yogi Mahila Samarthya Yojana Apply online |

महिला सामर्थ्‍य योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वित्‍तीय वर्ष 2021-22 के बजट में महिलाओं के लिए घोषणा की है | यह योजना महिला सशक्तिकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी | उत्तर प्रदेश सरकार ने योजना के क्रियान्वयन के लिए बजट 2021-22 में 200 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है | इस योजना के माध्यम से राज्य की महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित एवं उनके जीवन स्तर को सुधारने का प्रयास किया जाएगा | इस लेख के माध्यम से Mahila Samarthya Yojana से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि योजना का लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया की पूरी जानकारी दी जायेगी | इसलिए आपसे निवेदन है कि लेख को अंत तक जरुर पढ़े |

UP-Mahila-Samarthya-Yojana

UP Mahila Samarthya Yojana 2021

इस योजना के माध्यम से सरकार राज्य की महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित करेगी| साथ ही स्थानीय संसाधनों के उपयोग से होम एंड कॉटेज उद्योग को बढ़ावा दिया जाएगा | इस प्रकार से उनके जीवन स्तर में सुधार लाया जाएगा | एवं राज्य की महिला समृद्ध होगी | UP Mahila Samarthya Yojana 2021 की घोषणा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा बजट 2021-22 के बजट में की गयी | जिसके अंतर्गत 200 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया | यह योजना उत्तर प्रदेश राज्य के महिलाओं के कल्याण और सशक्तिकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी | इस योजना को राज्य के 800 ब्लॉक में लागू करने की योजना बनायीं गयी है।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश की महिलाओं को विकास की राह पर लाया जाएगा | इस योजना का उद्देश्य महिलाओं को रोजगार के प्रति प्रेरित करना और स्थानीय संसाधनों के उपयोग से घर पर एवं Cottage उद्योगों के माध्यम से उनके जीवन स्तर को सुधारने का प्रयास किया जाएगा । इस योजना के तहत, सरकार द्वारा महिलाओं को अपनी उपज बेचने के लिए बाजार भी उपलब्ध कराया जाएगा।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना Highlights

योजना का नामयूपी महिला सामर्थ्‍य योजना
शुरू की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
घोषणा22 फरवरी 2021 (बजट 2021-22)
राज्य का नामउत्तर प्रदेश
द्वारा प्रायोजितराज्य सरकार की योजना
लाभार्थीउत्तर प्रदेश राज्य की महिलायें
उद्देश्यमहिलाओं का कल्याण एवं सशक्त बनाना
आधिकारिक वेबसाईटजल्द लांच होगी
बजट आवंटन राशि200 करोड़ रुपये

Also read: मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, लाभ एवं पात्रता सूची

योजना के लिए दो स्तरीय समितियों का गठन

उत्तर प्रदेश सरकार ने इस योजना के अंतर्गत दो-स्तरीय समितियों का गठन किया जाएगा। जो की राज्य और जिला स्तरों पर होगी | इस योजना के अंतर्गत जिला स्तरीय समितियों का गठन जिला मजिस्ट्रेटों की अध्यक्षता में की जायेगी और राज्य में महिला रोजगार को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य स्तरीय संचालन समिति के साथ समन्वय के साथ काम करेगी। जिले स्तर पर गठित प्रत्येक समिति के द्वारा पात्र महिला समूहों और संगठनों की पहचान की जायेगी और उनका मार्गदर्शन किया जाएगा

महिला समर्थ योजना के अंतर्गत राज्य के महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए, सामान्य जागरूकता, परामर्श कार्यक्रम, एक्सपोज़र विजिट, सेमिनार, वर्कशॉप्स और प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

महिला आम सुविधा केंद्रों की स्थापना

सरकार द्वारा यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना के प्रथम चरण में, 200 विकास खंडों में महिला सामान्य सुविधा केंद्र स्थापित किया जाएगा। इन केंद्रों को महिलाओं के प्रशिक्षण के साथ साथ , सामान्य उत्पादन और प्रसंस्करण, तकनीकी अनुसंधान और विकास,  पैकेजिंग, लेबलिंग, बारकोडिंग और अन्य सुविधाओं के साथ स्थापित किया जाएगा।

राज्य सरकार द्वारा स्थापित इन सुविधा केंद्रों का 90 प्रतिशत व्यय भार प्रत्येक सामान्य सुविधा केंद्र के लिए राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

UP Mahila Samarthya Yojana के उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार का उद्देश्य राज्य में महिला सशक्तिकरण को बल प्रदान करना है। इसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश महिला सामर्थ्य योजना की शुरुआत की गयी। जिसके माध्यम से राज्य के लघु एवं सूक्ष्म उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा । उत्तर प्रदेश में लगभग 90 लाख से भी अधिक सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम आकार के उद्योग हैं। जिसमें से  80 लाख के लगभग सूक्ष्म उद्योग स्थापित हैं। ये सूक्ष्म एवं कुटीर उद्योग लोग अपने घरों से संचालित करते हैं। इन लघु एवं कुटीर उद्योगों में देखा जाय तो महिलाओं की मुख्य भूमिका है। इस योजना के लागू होने से महिलाओं को विशेष लाभ मिलेगा एवं महिला सशक्तिकरण एवं समृद्ध में वृद्धि होगी ।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना– Uttar Pradesh Budget 2021-22

राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए अनेक योजनायें लागू की है, जिनमें मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, उत्तर प्रदेश लाड़ली लक्ष्मी योजना महिला विकास योजना एवं महिला सशक्तिकरण योजना प्रमुख है ।

राज्य सरकार द्वारा महिलाओं और बच्चों में कुपोषण की समस्या को दूर करने के लिए, वित्तीय वर्ष 2021-22 से मुख्‍यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना को लागू किया जाएगा। इस योजना के लिए सरकार ने 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।

इसके साथ ही  पोषण कार्यक्रम के लिए 4,094 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान किया गया है । बजट में महिला शक्ति केन्द्र योजना की स्थापना के लिए 32 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं। इसके अलावा बजट में महिला सुरक्षा और महिला Help Desk के लिए विशेष अभियान स्थापित करने के बात की गई है।

यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना  2021 के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को लाने का कारण महिलाओं के सशक्तिकरण तथा महिला कल्याण है ।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रदेश की महिलाओं को लघु एवं सूक्ष्म रोजगार के प्रति प्रेरित किया जाएगा।
  • यूपी महिला सामर्थ्‍य योजना 2021 के माध्यम से स्थानीय संसाधनों उपयोग से होम एंड कॉटेज उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा । जिसके माध्यम से महिलाओं के जीवन स्तर में सुधार लाने का प्रयास किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से सरकार बाजार भी उपलब्ध कराएगी। जिससे महिलाओं को अपनी उपज को बेचने में आसानी हो सके।
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी महिला सामर्थ्य योजना की घोषणा 22 फरवरी 2021 को बजट में किया गया।
  • इस योजना सफल क्रियान्वयन के लिए राज्य सरकार ने 100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • यह योजना राज्य में महिला सशक्तिकरण तथा कल्याण के लिए एक महत्वाकांक्षी योजना साबित होगी।
  • इस योजना का कार्यान्वयन के लिए दो स्तरीय कमेटी गठित की गयी है।
  • जिसमें से एक कमेटी जिला स्तर पर गठित की जाएगी तथा दूसरी कमेटी राज्य स्तर पर गठित की जाएगी।
  • UP Mahila Samarthya Yojana 2021 के पहले चरण में 200 विकास खंडों में महिला सामान्य सुविधा केंद्र विकसित किए जाएंगे।
  • प्रत्येक सुविधा केंद्र पर होने वाले खर्च का 90% राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • राज्य की इस योजना के माध्यम से महिलाओं द्वारा संचालित किए जाने वाले लघु एवं कुटीर उद्यमों के उत्थान को बल मिलेगा।

यूपी महिला सामर्थ्य योजना की पात्रता तथा आवश्यक दस्तावेज

इस योजना का लाभ उठाने के लिए निम्न पात्रता एवं दस्तावेज की जरुरत पड़ेगी:-

  • उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक एक महिला होनी चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक खाता का विवरण
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र (परिवार का)
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

Also read: उत्तर प्रदेश रोजगार मेला ऑनलाइन आवेदन 

यूपी महिला सामर्थ्य योजना आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी हैं, और आप यूपी महिला सामर्थ्य योजना रजिस्ट्रेशन / आवेदन करना चाहते हैं | तो हम आपको बता दें कि सरकार ने इसके लिए घोषणा की है | सरकार  द्वारा जल्द ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया सक्रिय कर दी जाएगी। जैसे ही उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी महिला सामर्थ्य योजना आवेदन करने की प्रक्रिया आरंभ की जाएगी | हम आपको अपने इस लेख के माध्यम सूचित कर देंगे | इसके लिए आपसे विनम्र निवेदन है कि आप हमारे इस लेख से जुड़े रहे।

Leave a Comment