बीसी सखी योजना रजिस्ट्रेशन: (BC Sakhi Yojana) ऑनलाइन पंजीकरण, UP बैंकिंग सखी

बीसी सखी योजना रजिस्ट्रेशन, उत्तर प्रदेश BC Sakhi Yojana ऑनलाइन पंजीकरण, BC सखी योजना एप्लीकेशन फॉर्म,  UP Banking Sakhi Scheme  Online Form in Hindi | BC Sakhi Yojana in Hindi | बीसी सखी योजना ऑनलाइन फॉर्म

BC Sakhi Yojana: यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है| BC सखी योजना की शुरआत मख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा 22 मई 2020 राज्य की महिलाओ को लाभ पहुंचाने के लिए की गयी है।

उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी स्कीम से प्रदेश की महिलाओं को रोजगार के अवसर पैदा होंगे | इस योजना के तहत सरकार  ने ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को बैंकिंग सम्बंधित जानकारी उपलब्ध कराने के लिए बैंकिंग कॉरेस्पॉन्डेंट सखी तैनात करने का फैसला किया है। इससे ग्रामीण लोगों को बैंक में जाने की जरूरत नहीं होगी, क्योंकि सखी द्वारा ही घर पर बैंकिंग सुविधाए उपलब्ध करा दी जायेगी | इससे एक तो लोगों को बैंकिंग सुविधाए घर बैठे ही मिल जाएगी | साथ ही राज्य की महिलाओं को रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी स्कीम से जुड़ी पूरी जानकारी प्रदान करेंगे | अतः इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें |

BC-सखी-योजना

UP Banking Sakhi Yojana

सरकार ने UP Banking Sakhi Yojana के तहत ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं अब डिजिटल मोड में लोगों के घर पर बैंकिंग सेवाएं एवं पैसे पहुचायेगी | इससे एक फायदा यह है की लोगों को घर बैठे बैंकिंग सुविधाए मिल जायेगी | साथ ही महिलाओं को रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे | नई यूपी बैंकिंग सखी योजना से ग्रामीण की महिलाओं को 6 महीने तक 4 हजार रुपये राज्य सरकार द्वारा प्रति माह प्रदान किये जायेंगे | साथ ही बैंक द्वारा महिलाओं को लेन देन पर कमीशन भी दिया जाएगा | इससे उन्हें मासिक आय का साधन भी मिल जाएगा |

इसे भी पढ़े : ग्राहक सेवा केंद्र: SBI Grahak Seva Kendra कैसे खोलें?

बीसी सखी योजना ऑनलाइन प्रशिक्षण तथा तैनाती की व्यवस्था

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा BC Sakhi Yojana के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सुविधाओं को पहुचाने के लिए महिलाओं की नियुक्ति किया जाएगा | इस योजना के अंतर्गत प्रथम चरण में 56,875 महिला अभ्यर्थियों का चयन किया गया है। सभी चयनित अभ्यर्थियों का 15 दिसंबर 2020 से प्रशिक्षण शुरू कर दिया जायेगा। महिला अभ्यर्थयों के प्रशिक्षण के बाद पुलिस वेरिफिकेशन के बाद तैनाती कार्यस्थल पर कर दी है। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देश के अनुसार अभ्यर्थियों को जल्द से जल्द प्रशिक्षित करके उन्हें कार्यस्थल पर तैनात किया जायेगा।

  • BC Sakhi Yojana के माध्यम से बड़ी संख्या में महिलाओं को रोजगार के अवसर पैदा होंगे। राज्य के मुख्य सचिव श्री मनोज कुमार सिंह जी के बताया कि प्रत्येक ग्राम पंचायत से एक अभ्यर्थी को चुना गया है, जिसे प्रशिक्षित करके ग्रामीण क्षेत्रों में तैनात कर दिया जायेगा। 
  • बीसी सखी के लिए परीक्षा का आयोजन किया जायेगा, यह परीक्षा आईआईबीएफ द्वारा ऑनलाइन संपन्न कराई जाएगी। जो अभ्यर्थी परीक्षा पास नहीं कर पायेगा, उसका नाम वेटिंग लिस्ट में डाल  दिया जायेगा। सर्टिफिकेट चेक करने के बाद अभ्यर्थी का पुलिस वेरिफिकेशन होगा | उसके बाद कार्यस्थल पर तैनाती कर दी जाएगी।

BC सखी योजना जनवरी 2021 अपडेट

ग्रामीणों को अब बैंक से जुड़े काम के लिए अधिक समय नहीं गवाना पड़ेगा। सरकारी पेंशन हो या फिर कोई अन्य काम, BC सखी योजना के अंतर्गत बीसी सखी उनकी मदद उनके घर जाकर कर देंगे। प्रथम चरण में राज्य की 640 ग्राम पंचायतों में बीसी सखी की तैनाती की जा रही है, उनका प्रशिक्षण भी शुरू हो चुका है। सरकार ने ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने एवं ग्रामीणों को बैंकिंग सुविधा आसान करने के लिए प्रत्येक गाँव में व्यवसाय संवाददाता सखी कार्यक्रम शुरू किया है।

इस कार्यक्रम के तहत, प्रत्येक गांव में एक महिला को बीसी सखी के रूप में प्रशिक्षित किया जाएगा | जो ग्रामीणों को विभिन्न बैंकिंग योजनाओं में सहायता करेंगी। BC सखी योजना के अंतर्गत, बीसी सखी को प्रथम चरण में कुल 682 ग्राम पंचायतों में से 640 ग्राम पंचायतों में तैनात किया जाएगा। ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान द्वारा उन्हें 6 दिवसीय प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के पश्चात उन्हें परीक्षा  भी पास करना होगा। इसके बाद ही प्रमाण पत्र मिल पायेगा | प्रशिक्षण के लिए 30-30 महिलाओं का बैच बनाया गया है और उन्हें निम्न प्रकार से प्रशिक्षण के लाभ प्रदान किये जायेंगे-

  • हाईटेक ट्रेनिंग देना: महिलाओं को कंप्यूटर बैंकिंग से जुड़े अन्य सॉफ्टवेयर की जानकारी प्रदान किये जायेंगे। इसके अलावा उन्हें फोन, फोन पर गूगल आदि में एटीएम चलाने के लिए भी प्रशिक्षित किया जा रहा है।
  • मिलेगा 4000 प्रतिमाह मानदेय: महिलाओं को बीसी सखी के रूप में काम के लिए 4000 रुपये प्रति माह मानदेय के रूप में सरकार द्वारा दिए जाएंगे। इसके साथ ही, उनका काम अच्छा होने पर उन्हें प्रोत्साहन राशि भी बैंक के दी जाएगी, साथ ही समूह से जुड़ी महिलाओं को अन्य वजीफे भी दिए जाएंगे।
  • आत्मनिर्भर महिला: इस संबंध में सरकार के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि बीसी सखी योजना से जुड़कर महिलाएं आत्मनिर्भर बन सकती हैं। इसके साथ ही ग्रामीणों को बैंकिंग सुविधाएँ भी आसानी से मिल पाएगी।

BC Sakhi Yojana की भर्ती प्रारम्भ

इसके लिए प्रदेश में बैंकिंग सखी की भर्तियां शुरू कर दी गयी है | उत्तर प्रदेश राजकीय आजीविका मिशन के अंतर्गत चयनित अभ्यर्थियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया है। ग्राम विकास के प्रमुख सचिव ने बताया की रूरल सेल्स इम्प्लॉयमेंट के द्वारा यह प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। आपकी जानकारी के लिए  बता दें कि परीक्षा में पास होने के बाद हर बीसी सखी को प्रतिमाह 4000 रूपये सरकार द्वारा दिए जायेंगे। 

BC सखी योजना नयी अपडेट

उत्तर प्रदेश द्वारा शुरू की गयी UP Banking Sakhi Yojana राज्य की महिलाओं के आत्मनिर्भर बनाने में कारगर साबित हुई है | राज्य सरकार द्वारा इसके तहत 58000 महिलाओं को रोजगार के अवसर पैदा होंगे | इस योजना के अंतर्गत राज्य की जो महिलाएं आवेदन करना चाहती हैं | वे 17 अगस्त 2020 तक इस योजना के तहत आवेदन करके योजना का लाभ उठा सकती हैं।

इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई थी | आवेदन की तिथि को बढ़ाकर 17 अगस्त 2020 कर दी गयी है। इस योजना के माध्यम से कई महिलाएं अपने घर के आर्थिक मदद करने में सक्षम हो पाई हैं | इससे उनके घर का खर्चा सही से हो पा रहा है। सरकार द्वारा शुरू की गयी ऐसी योजनाओं से महिलाएं नौकरी के क्षेत्र में बहुत तेज़ी से आगे बढ़ पा रहीं हैं | इससे उनके आत्मनिर्भर होने में भी मदद मिली है |

बीसी सखी योजना मोबाइल ऐप

सखी ऐप का उद्घाटन 16 अगस्त, 2020 को स्मृति ईरानी, कपड़ा और महिला और बाल विकास मंत्री द्वारा अमेठी जिले से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये किया गया है। इस अवसर पर, 151 आंगनवाड़ी केंद्रों को अमेठी जिले में उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्रों के रूप में डेवलप्ड किया गया है। इस ऐप के माध्यम से, आप बीसी सखी योजना के तहत शुरू की गई सभी सुविधायें आंगनवाड़ी द्वारा प्राप्त कर पाएंगे। इन आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्रों में विकसित करने का कार्य बोस्टन परामर्श समूह द्वारा किया गया है।

बीसी सखी योजना मिलने वाली सैलरी

राज्य सरकार द्वारा बीसी सखी योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाली महिलाओं को सैलरी देने का प्रावधान किया है। इस योजना के अंतर्गत शुरुआत के 6 महीनों तक 4000 रुपये प्रतिमाह वेतन के रूप में दिए जायेंगे। साथ ही बैंकिंग डिवाइस खरीदने के लिए 50000 रूपये भी अलग से दिए जायेंगे | साथ ही अन्य बैंकिंग कामों के लिए अलग से कमिशन भी दिया जायेगा। शुरुआत के 6 महीने पूरे होने के बाद बैंक द्वारा मिलने वाले कमिशन के माध्यम से ही कमाई हो पाएगी।

बीसी सखी योजना का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर तक बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से बीसी सखी योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना के तहत लोगों को घर-घर बैंकिंग सुविधाएं प्राप्त  हो पायेगा। इसके साथ ही BC सखी योजना के माध्यम से महिलाओं को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे।

Highlights of Sakhi Yojana Uttar Pradesh

यूपी बैंकिंग सखी योजना 58 हजार महिलाओं का चयन

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण पूरे देश दहसत फैला हुआ है | जिसके कारण पूरे देश में लॉक-डाउन की स्थिति बनी हुई है। देश में लॉकडाउन  को बार-बार बढ़ाना पर रहा है | जिसकी वजह से लोग कही भी नहीं जा पा रहे हैं। इस लॉक-डाउन की स्थिति में लोगों को अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए बैंक जाने की होती है, परन्तु ऐसी स्थिति में वे बैंक नहीं जा पा रहे हैं।

अब लोगों को पैसे की आवश्यकता के लिए बैंक जाने की भी आवश्यकता नहीं होगी, क्योंकि अब लोगों को घर बैठे ही बैंकिंग सुविधा प्रदान की जा रही है। इस योजना के माध्यम से जिन महिलाओं को रोजगार प्रदान किया जा रहा है | वे घर-घर जाकर लोगों को बैंक से जुडी सुविधायें जैसे- पैसों का लेन-देन आदि प्रदान की जाएगी | इससे लोगों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना अब नहीं करना पड़ेगा।

BC सखी योजना

BC Sakhi Scheme

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बताया कि आने वाले 1 वर्ष में 500 और आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्रों में परिवर्तित कर दिया जायेगा। बोस्टन कंसलटिंग ग्रुप के द्वारा सभी आँगनवाड़ी केन्द्रों को सखी ऐप के जरिये महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी। राज्य के अमेठी जिले में 1 हजार 943 आंगनवाड़ी केंद्र हैं, जिसमें से प्रथम चरण में 151 आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केन्द्रों में विकसित किया गया है। इसमें से जगदीशपुर में 30, तोलाई ब्लॉक में 30, बहादुरपुर ब्लाक में 12, भेदुआ में 11, सिंहपुर ब्लाक में 11, अमेठी बाजार शुक्ल में 10, गौरीगंज में 10, मुसाफिरखाना में 10, शाहगढ़ के हैर ब्लॉक में 10, तथा भादर ब्लॉक ब्लॉक में 06 आंगनवाड़ी केंद्रों को उत्कर्ष आंगनवाड़ी केंद्र में विकसित किया जा चुका है।

इसे भी पढ़े : UP Shasanadesh 2021 : यूपी शासनादेश ऑनलाइन कैसे देखें ?

BC सखी योजना का कार्यान्वयन

देश में कोरोना संक्रमण के समय में लोगों को अपने घरों से निकलकर बैंकिंग कार्यो के लिए बाहर जाना एक चुनौती सी बन गया है। कई बार बैंकिंग कार्य के महत्वपूर्ण होने की स्थिति में हमें बैंकों में जाना पड़ता है। इन समस्याओं के समाधान और बैंकिंग प्रक्रिया को सरल बनाने में  UP BC Sakhi Yojana महत्वपूर्ण साबित होगी |

BC सखी योजना (BC Sakhi Yojana) को क्रियान्वित करने के लिए राज्य सरकार ने लगभग 35,938 स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को 218.49 करोड़ की धनराशि प्रदान की है। इस धनराशि 22 मई 2020 को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जारी की गई है। इस निधि से उन गैर-सरकारी संगठनों में काम करने वाली महिलाओं को आर्थिक मदद मिलेगी, जो मास्क बनाने, प्लेटें बनाने, सिलाई, क्राफ्टिंग, मसाले आदि के काम से जुड़ी हैं।

UP बैंकिंग सखी योजना के मुख्य तथ्य

  • राज्य सरकार के इस योजना से उत्तर प्रदेश की ग्रामीण महिलाओ को राज्य सरकार द्वारा रोजगार के अवसर प्रदान किए जायेंगे।
  • उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी स्कीम के माध्यम से राज्य के लगभग 58 हज़ार महिलाओं को रोजगार के अवसर पैदा होंगे।
  • सरकार द्वारा  इस योजना के अनुसार चयनित महिलाओं को नौकरी मिलेगी और अगले 6 महीने तक प्रतिमाह 4000 रूपये की वित्तीय सहायता सैलरी के रूप में सरकार के द्वारा दी जाएगी।
  • डिजिटल डिवाइस खरीदने के लिए भी राज्य सरकार द्वारा 50000  रूपये की सहायता धनराशि प्रत्येक बैंक सखी को दी जाएगी।
  • बैंक इन महिलाओं को निश्चित गारंटी मासिक आय निश्चित करने के लिए डिजिटल मोड के माध्यम से किए गए प्रत्येक लेनदेन पर कमीशन देगी ।
  • इस  BC Sakhi Yojana के माध्यम से इन महिलाओं की जिम्मेदारी  गांव-गांव जाकर लोगों को बैंकिंग के प्रति जागरूक बनाना है। साथ ही घर बैठे ग्रामीणों के बैंक से जुड़े जरूरी काम भी निपटाएंगी।
  • एक बैंकिंग करेस्पांडेंट सखी को प्रशिक्षित करने में राज्य सरकार का कुल 74 हजार रुपये का खर्च आएगा। छह महीने का प्रोत्साहन राशि इसलिए दिया जाएगा, जिससे कि  महिलाएं आर्थिक दिक्कतों के कारण इस रोजगार को ना छोड़ सकें।
  • घर घर लोगों को बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत रोजगार प्राप्त करने के लिए महिलाओं को आवेदन करना जरुरी होगा।

बीसी सखी योजना का कार्य

  • इस योजना के अंतर्गत स्वयं सहायता समूह के सदस्यों की सेवाएं प्रदान की जाएगी।
  • बीसी सखी योजना के माध्यम से लोगों के घर-घर जाकर बैंकिंग लेनदेन सेवाएं उपलब्ध कराई जाएगी।
  • लोगों को घर-घर जाकर लोन से जुड़ी जानकारी प्रदान की जाएगी | जिससे लोन लेने में उन्हें किसी भी प्रकार की झिझक ना हो एवं वे आसानी से लोन के लिए आवेदन कर सकें।
  • जो लोग बैंक से लोन लिया है, उनसे लोन की राशि रिकवर करने में इन सखी महिलाओं को भी लगाया जाएगा।
  • बीसी सखी का मुख्य कार्य- लोगों के बैंक खाते से घर-घर जाकर पैसे जमा व निकासी करवाना है।

UP Banking के लिए पात्रता मानदंड

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से पूरा करना होगा जो की नीचे दिया गया है-

  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए महिलाओं को उत्तर प्रदेश राज्य का निवासी होना आवश्यक है।
  • योग्यता 10वीं कक्षा पास निर्धारित की गयी है, अर्थात जो 10 वी पास हैं वे आवेदन कर सकेंगी।
  • महिलाओं का बैंकिंग सेवाओं को समझना बहुत आवश्यक है।
  • वे महिलाएं जो इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाह रही हैं | वे पैसो के लेन-देंन करने में सक्षम होनी चाहिए।
  • योजना के अंतर्गत आवेदन करने के बाद चयनित महिलाओं को इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस चलाने की पूरी समझ होनी चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश बैंकिंग सखी स्कीम के तहत उन महिलाओं को नियुक्त किया जायेगा ।
  • जो बैंकिंग के काम-काज को समझ सके और पढ़-लिख सके।

BC सखी योजना Mobile App के माध्यम से आवेदन कैसे करे?

यदि आप ऊपर दिए गए पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं तो आप दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं-

  • सर्वप्रथम आपको अपने एंड्राइड मोबाइल के Google Play Store पर जाना होगा।
  • आपको सर्च बार में “BC Sakhi App” को सर्च करना होगा।  इसके पश्चात आपके  सामने BC Sakhi App प्रदर्शित हो जाएगी, उसके बाद इस App को डाउनलोड कर लेना है।

बीसी-सखी-योजना-ऑनलाइन

  • ऍप डाउनलोड करने के पश्चात App को ओपन कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने बीसी सखी ऐप का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • होम पेज  पर आपको अपना फोन नंबर को दर्ज करके लॉगिन बटन पर क्लिक कर देना है।

बीसी-सखी-योजना-ऑनलाइन

  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक 6 नंबर का ओटीपी आ जायेगा | आपको ओटीपी दर्ज करके “Next” के बटन पर क्लिक कर देना है। इसके पश्चात आपके सामने नया पेज खुल जायेगा।

बीसी-सखी-योजना-ऑनलाइन

  • अब आपको इसमें “बेसिक प्रोफाइल” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुल कर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी का विवरण दर्ज करके “सेव और सब्मिट” के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इसी प्रकार से आपको सारे भाग में दी गयी जानकारी दर्ज करनी होगी | उसके बाद आप Submit के बटन पर क्लिक करते जाएँ, और साथ ही यदि आप सब्मिट के बटन पर क्लिक नहीं करेंगे, तो आप अगले भाग में नहीं जा पाएंगे। इसके पश्चात आपको आपने आवश्यक दस्तावेज  अपलोड कर देना है।
  • आपको इसमें कुछ सामान्य से प्रश्नों के उत्तर भी देने होंगे, सभी प्रश्नों के उत्तर बहुविकल्पीय होंगे।
  • प्रश्न सरल होंगे, जो कि हिंदी व्याकरण, गणित एवं अंग्रेजी से पूछे जायेंगे।
  • आवेदन प्रक्रिया पूरा होने पर ऐप के massage पर आपको सूचना मिल जाएगी।
  • चयनित उम्मीदवार या जो चयनित नहीं हो पाएंगे, उनको ऐप के जरिये सूचना दे दी जाएगी।

BC Sakhi Contact Helpline Number

इस लेख में हमने बीसी सखी योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है | जिसकी मदद से आप आसानी से BC Sakhi Yojana Online Apply कर पायेंगे एवं लाभ उठा सकेंगे | इसके बावजूद भी यदि आप किसी भी प्रकार की समस्या हो रही है तो नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर 8005380270 पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment