लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं | ऐसे उठायें योजना का लाभ

Advertisements

लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं : हमारे देश में अभी भी लड़कियां (बेटियाँ) कम पढ़ती हैं | इसका सबसे बड़ा कारण एक तो माता पिता में शिक्षा का अभाव वही दूसरा कारण देश में गरीब है | बेटियां / लड़कियों तभी आगे बढ़ सकती हैं एवं अपने पैरों पर खड़ी हो सकती हैं जब उन्हें उच्च शिक्षा दी जायेगी | केंद्र सरकार एवं राज्य सरकारों द्वारा देश की बेटियों / लड़कियों की उच्च शिक्षा एवं शादी विवाह के लिए कई कल्याणकारी योजनाये लाती जाती रहीं हैं | जिससे की लड़कियां पढ़ सके एवं अपने पैरों पर खड़ी हो सकें | इस आर्टिकल में हम लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं (ladkiyon ki uchch shiksha ke liye yojanaen) की पूरी जानकारी साझा करेंगे | इस लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें | 

लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं

देश में लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए ऐसी कई योजनाएं (ladkiyon ki uchch shiksha ke liye yojanaen) चलाई जा रही है | जिससे कि लड़कियां सामाजिक रूप  से सशक्त एवं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बन सकें | सरकार द्वारा शुरू की गयी इन योजनाओं का उद्देश्य बेटियों की उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक मदद करना एवं उनकी शादी के लिए आर्थिक रूप से सबल बनाना है |

देश में ऐसे कई परिवार हैं जो अपनी बेटियों की शिक्षा / एवं शादी के लिए पैसे इकठ्ठा नहीं कर पाते हैं | ऐसे जरुरतमंद परिवारों को जागरुक बनाना एवं उन्हें योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सरकार प्रयासरत रहती है | इस आर्टिकल में हम नीचे ऐसे कई केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं के बारे में जानकारी देंगे जो की लड़कियों के हित को ध्यान में रखते हुए शुरू की गयी है | 

लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं

लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं

केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकारें बेटियों / लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं शुरू की जाती रही हैं | इनमे से कुछ महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी नीचे दी गयी है |

सुकन्या समृधि योजना (Sukanya samriddhi Yojana)

केंद्र सरकार द्वारा देश की बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए Sukanya samriddhi Yojana की शुरुआत की है | इस योजना के अंतर्गत बेटियों की पढाई , उच्च शिक्षा एवं शादी के लिए बचत अकाउंट खोलने का प्रावधान किया गया है | जो व्यक्ति अपनी बेटियों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए सुकन्या योजना के अंतर्गत खाता खुलवाना चाहते हैं | वे 1 से 10 वर्ष तक की बेटियों का अकाउंट open करवा सकते हैं | यह एक छोटी बचत योजना है जिसका मकसद बेटियों के भविष्य  को सुरक्षित रखना है | इस योजना के अंतर्गत मासिक या वार्षिक आधार पर पैसे जमा करवा सकते हैं। 

सुकन्या खाता में ppf अकाउंट से अधिक ब्याज की दर में मिलने वाले ब्याज से अधिक होता है | इस खाता में कम से कम 250 रूपये एवं अधिकतम 1.50 लाख वार्षिक जमा कर सकते हैं | जिसे आप बैंक या पोस्ट ऑफिस में अकाउंट खुलवा सकते हैं | इस खाता पर आपको वित्तीय वर्ष 2022-23 में 7.6 प्रतिशत ब्याज निर्धारित की गयी है | इसे प्रत्येक वित्तीय वर्ष में संशोधित किया जाता है | इस scheme में जमा पैसा बेटी के 21 वर्ष पूरा होने पर हो जायेगी | 18 वर्ष की उम्र होने पर भी 50 प्रतिशत निकाला जा सकता है, जिसे उच्च शिक्षा के लिए निकाल सकते हैं |

बेटी बचाओं बेटी पढाओ योजना

यह केन्द्र सरकार द्वारा शुरू की गयी है | इस योजना के अंतर्गत देश में बढ़ रही लिंगानुपात के अंतर को कम करना है | इस योजना के तहत लड़कियों में जागरूकता को बढ़ावा दिया जा रहा है | इसके अंतर्गत शिक्षा को प्राथमिकता दिया जा रहा है | इससे लिंगानुपात के अंतर्गत को कम करने में मदद मिलेगी | इस योजना की शुरुआत देश के पहले ऐसे राज्यों में शुरू की गयी , जहाँ पर पुरुषों की तुलना में महिलाएं कम है | फिर बाद में इसे पूरे देश में लागू कर दिया गया | इस योजना से महिलाओं में जागरूकता में वृद्धि हुई है | इससे कई प्रकार की बुरी प्रथाओं को कम करने में मदद मिली है |   

सीबीएसई छात्रवृति योजना

इस योजना के अंतर्गत ऐसी लड़कियों को छात्रवृति दी जाती है, जो सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन में अच्छे नंबर लाने में सफल हो जाती है | यदि कोई लड़की 12वीं कक्षा में 60 प्रतिशत या उससे अधिक नंबर लाती है, तो ऐसी सभी छात्राओं को इस योजना के तहत प्रति माह 500 रूपये प्रदान किए जाएंगे। इस योजना के तहत मिलने वाले पैसे सीधे बैंक खाते में ट्रान्सफर कर दिए जाते हैं। 

इस योजना का उद्देश्य ऐसी लड़कियों जो आर्थिक रूप से कमजोर है, उन्हें आर्थिक रूप से मदद प्रदान करना है | जिससे कि वे आगे बढ़ सके एवं अपने भविष्य को उज्जवल बना सकें । इस योजना के लागू होने से लड़कियों को शिक्षा प्राप्त करने में प्रोत्साहन मिलता है । 

बालिका समृधि योजना

बालिका समृधि योजना की शुरुआत 1997 में की गयी थी | यह केन्द्र सरकार द्वारा शुरू की गयी योजना है | इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश की लड़कियों/ बालिकाओं के जन्म और उनकी शिक्षा के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित करना है। 

इस योजना के अंतर्गत लड़की के जन्म पर, लड़की की माता को 500 रूपये दिए जाते हैं, जो कि लड़की के नाम पर दिया जाता है | जब लड़की स्कूल में प्रवेश लेगी, तो उस समय भी उस लड़की को आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य लडकियों के जन्म और लड़कियों की पढाई के प्रति लोगो को जागरुक बनाना है है। 

बालिका समृधि योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि के बारे में जानकारी नीचे दी गयी है | लड़की के स्कूल में प्रवेश लेने पर मिलने वाली राशि – 300 रूपये दिए जायेगे। 

  • बालिका के कक्षा 4 में प्रवेश लेने पर – 500 रूपये प्रदान किए जायेंगे ।
  • कक्षा 5 में प्रवेश करने पर – 600 रूपये दिए जाते है।
  • कक्षा 6 एवं 7 में प्रवेश लेने पर – 700 रूपये दिए जायेंगे।
  • 8 में प्रवेश पर – 800 रूपये प्रदान किये जाते हैं।
  • कक्षा 9 और 10 में प्रवेश लेने पर – 1000  रूपये दिए जाते हैं। 

मुख्यमंत्री राजश्री योजना

राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री राजश्री योजना की शुरुआत की गयी है | इस योजना में लड़कियों को उनके जन्म के समय धनराशि प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ केवल लड़की के जन्म पर उसके जन्म से लेकर उसकी शिक्षा तक का खर्च उठाने के लिए प्रदान किया जाता है। 

लड़की के जन्म के समय उसकी माता को 2500 रूपये की धनराशि दी जाती है । यह धनराशी उसको चेक के द्वारा या ऑनलाइन पैसे ट्रान्सफर करके भेजे जाते है। इसके पश्चात स्कूल में प्रवेश के समय बच्ची के खाते में 4 हजार की धनराशि भेजी जाती है।

जब लड़की कक्षा 6 में प्रवेश लेती है तो उसे 5 हजार, एवं 11वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर उस लड़की को 11 हजार रूपये की धनराशी शिक्षा के लिए दिए जाते है | जिससे की वह अपनी पढाई पूरी कर सके।

मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना

यह योजना बिहार सरकार द्वारा संचालित की गयी है। इस योजना के अंतर्गत राज्य की गरीब लड़की को 2 हजार की धनराशि दी जाती है। इस योजना लाभ केवल बिहार राज्य में रहने वाली या जन्म लेने वाली बालिका ही लाभार्थी हो सकती है। 

इस योजना के अंतर्गत पैसे लड़की के जन्म के समय दिए जाते है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लड़की का जन्म प्रमाण पत्र सम्बंधित विभाग में जमा करवाना पड़ता है, उसके पश्चात ही इस योजना का लाभ मिल सकता है। 

माजी कन्या भाग्यश्री योजना

इस योजना को महाराष्ट्र सरकार द्वारा लागू किया गया है | माजी कन्या भाग्यश्री योजना के अंतर्गत बच्ची के जन्म से 5 साल तक हर लड़की को 5 हजार रूपये की धनराशि दी जाती है। जब लड़की कक्षा 5 में प्रवेश करती है, तो उस लड़की को इस योजना के अंतर्गत 2500 रूपये प्रदान किये जाते हैं । 

कक्षा 12वीं में प्रवेश लेने पर उस लड़की को योजना के अंतर्गत 3000 रूपये की राशि दी जाती है। 18 साल की उम्र पूरी होने पर उस लड़की की शादी के लिए 1 लाख रूपये की अनुदान राशि भी प्रदान की जाती है | इस धनराशी का उपयोग केवल लड़की की शादी के लिए या उच्च शिक्षा के लिये किया जा सकता है | इस आर्टिकल में लड़कियों की उच्च शिक्षा के लिए योजनाएं , जो की केन्द्र सरकार या राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी है | उसके बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी है | फिर भी आपके कोई प्रश्न हो या कोई सुझाव हो तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं |

Leave a Comment

Advertisements