10 Success Tips In Hindi। जीवन में सफलता के 10 टिप्स।

Success Tips In Hindi:-

दोस्तों! आज हम आपको “10 Success Tips In Hindi” में कैसे सफलता पाए के बारे में जानकारी देंगे। Students के अलावा कोई भी ब्यक्ति जो अपने जीवन में सफलता पाना चाहता है वह भी इस टिप्स को अपनाकर अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है। हर व्यक्ति अपने जीवन में सफल होना चाहता है, और  इसके लिए मेहनत भी  करता है। लेकिन सफलता प्राप्त करने के लिए आप कितना मेहनत कर रहे हैं और कैसे मेहनत कर रहे हैं, यह भी जरूरी है।

सफलता की अगर बात करें तो यह कोई आकस्मिक चीज नहीं है। यह आपके दृष्टिकोण (Attitude)  का परिणाम होता है। आप अपने लक्ष्य (Aim) के प्रति कैसा दृष्टिकोण रखते  हैं? यह चीज बहुत मायने रखती है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको जीवन में सफलता के सूत्र लिए आवश्यक नियमों (Rules) के बारे में जानकारी देंगे, जो आपकी सफलता में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है।

Success Tips for Students In Hindi,  Successful Students habits
Success Tips In Hindi

सफलता क्या है ? Success in Life In Hindi: 

जीवन में सफल होनें के लिये सफलता की बातें तो सभी करते हैं। लेकिन यदि आप वास्तव में सफल होना चाहते हैं तो उन चीजों को करने की आदत बनाएं जो असफलताओं को पसंद नहीं करती है। अर्थात जो सफलता के लिए आवश्यक है।

सफलता और असफलता के विषय में बहुत सारे शोध  किए गए हैं। सफलता के रहस्यो को सफल लोगों के जीवन इतिहास से सीखा जा सकता है। सफल लोगों में कुछ खास गुण होते हैं। चाहे वे इतिहास के किसी भी दौर में क्यों न रहे हो और कोई फर्क नहीं पड़ता है कि उनके प्रयास  क्षेत्र क्या थे? हमें उनके “सफल जीवन के नियम” को अपनाना होगा।

जीवन में सफलता पाने के तरीके:- 

यदि हम सफल लोगों के गुणों को पहचानते हैं और अपने जीवन में अपनाते हैं, तो हम भी सफल होंगे।  ऐसे भी लोग हैं, जो सफल नहीं हैं।  यदि हम उनके द्वारा की गई गलतियों से बचते हैं, तो हम विफल नहीं होंगे। सफलता कोई रहस्य नहीं है।  इसके लिए बस कुछ बुनियादी सिद्धांतों को अपने जीवन में लगातार लागू करना है।  इसका उल्टा भी सही हो सकता है,  कि  असफलता केवल कुछ गलतियों को बार-बार करने का परिणाम है। 

जरूर पढ़े:-12 Best Mulmantra of Success in life.

सफल जीवन के नियम:-      Determined your Goal:

आपका लक्ष्य क्या है? यह बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्न है। सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको लक्ष्य निर्धारित करना पड़ेगा। आपका Vision स्पष्ट होना चाहिए।आप Successful businessman बनना चाहते होंगे,  या कोई Student है, तो एक अच्छी नौकरी IAS,  PCS, Doctor इत्यादि बनना चाहते होंगे। 

मेरे कहने का मतलब है कि आपका Target एकदम स्पष्ट हो और आपकी क्षमता के अनुरूप हो। अब यहां पर क्षमता के अनुरूप का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि आप अपनी क्षमता को Develop नहीं कर सकते हैं। आप अपनी क्षमता को Develop  भी कर सकते हैं और एक बड़ा Target  भी निर्धारित कर सकते हैं। आपका Target आपके Desire,  Commitment, Confidence पर निर्भर करता है।

सफलता में आने वाली बाधाएं:            Some Obstacles to Success in Life:

जब हम लक्ष्य निर्धारित कर सफलता की ओर आगे बढ़ने का प्रयास करते हैं तो रास्ते में ऐसी बहुत सारी चुनौतियां आती हैं जो हमारी सफलता के लिए बाधक होती है।
सफलता के लिए बाधक बन कर आने वाली चुनौतियों को जानना बहुत आवश्यक होता है। यह जरूरी नहीं है कि यह चुनौतियां सबके लिए समान हो। यह अलग अलग भी हो सकती है। नीचे हम कुछ बाधाओं के बारे में चर्चा करने जा रहे हैं।
* Fear of failure- असफल होने का डर 
* Lack of Confidence- आत्मविश्वास की कमी
* No Plan- योजना का अभाव 
* Lack of formalized Goals- लक्ष्य की 
   अस्पष्टता।
* Procrastination- टालमटोल।
* Family responsibilities- पारिवारिक                   जिम्मेदारियां।
* Financial security issues- वित्तीय सुरक्षा के       मुद्दे!
* Lack of focus- एकाग्रता की कमी।
* Lack of commitment- प्रतिबद्धता का अभाव।
* Lack of persistence- दृढ़ता का अभाव।
* Lack of priorities- प्राथमिकताओं की कमी।

यहां पर मैं अधिकांश बाधाओं के बारे में चर्चा की है। जो लोग अपने जीवन में सफल होने के लिए आगे बढ़ते हैं उनमें से अधिकांश लोग ऐसे ही बाधाओं का सामना करते हैं।

अब सवाल आता है कि क्या हम इन बाधाओं से पार पा सकते हैं? सफलता के रास्ते में आने वाली चुनौतियों से कैसी लड़े और उसका समाधान कैसे करें? इसका समाधान उन बाधाओं के अंदर ही समाहित है। आपको अपनी कमजोर पक्ष को मजबूत करना पड़ेगा। आप अपनी कमजोर पक्ष पर काम कीजिए, उसके लिए मेहनत कीजिए।

आपने देखा होगा,  एक व्यक्ति कैसे एक के बाद एक सफलता की कहानी के साथ आगे बढ़ता है? कैसी एक आदमी एक के बाद एक बाधाओं को पार करके जीवन जीता है और अपने लक्ष्यों को पूरा करता है जबकि दूसरा संघर्ष करता है और उसको असफलता बार बार मिलती है। अगर इन दोनों सवालों का जवाब आपके सीखने के तरीके का हिस्सा बन जाता है तो यह आपके जीवन में क्रांति ला देगा।

कुछ लोग बार-बार सफल कैसे होते हैं? वे  ऐसी कौन सी खूबियों को विकसित कर पाते हैं जिससे वह अपने जीवन में सफलता का अंबार लगा देते हैं। उन्हीं खूबियों (सफलता के टिप्स) का नीचे उल्लेख किया गया है।

10 Motivational Tips In Hindi: सफलता के 10 टिप्स 

1.दृढ़ इच्छाशक्ति (Desire):

सभी लोग यही बोलते हैं, कि अपने लक्ष्य के प्रति इच्छाशक्ति मजबूत करो और सफल बन जाओ। लेकिन इच्छाशक्ति कैसे लाएंगे? आप इस पर खुद मंथन कीजिए क्योंकि एक ही लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अलग-अलग लोगों के लिए कारण भिन्न-भिन्न हो सकता है। इसी कारण को ढूढ़ना है। 

आप कोई लक्ष्य क्यों पाना चाहते हैं? जिस दिन आप उस कारण को जान लेंगे उस दिन से आपके अंदर लक्ष्य के प्रति Lack of Desire की समस्या समाप्त हो जाएगी। 

मैं आपको एक उदाहरण देकर समझाता हूं। यदि आप किसी रेगिस्तान में फंस जाते हैं जहां पर दूर-दूर तक पानी ही नहीं है तो आप शुरुआत के दिन में स्वच्छ पीने योग्य पानी  को खोजने का प्रयास करेंगे। लेकिन जैसे-जैसे समय व्यतीत होता जाएगा, आपके शरीर का पानी सूख जाएगा। पानी को पाने की इच्छा शक्ति उतनी ही प्रबल होती जाएगी। आप सोचने लगेंगे। बस पानी मिल जाए, चाहे वह पानी पीने योग्य ना हो। फिर भी अगर वह भी ना मिले तो समझ लीजिए। आपके अंदर पानी को पीने की इच्छाशक्ति की प्रबलता कितनी दृण  हो जाएगी? इच्छाशक्ति की प्रबलता का कारण पानी है। आप समझ गए होंगे।

वैसे भी आपको वह कारण ढूंढना होगा, जो आपके अंदर इच्छाशक्ति को मजबूत करें। कुछ लोगों के लिए यह कारण अपनी financial reason हो सकता है कुछ लोगों का कारण सामाजिक सम्मान,  तो कुछ लोगों का अपने माता पिता के सपनों को साकार करना हो सकता है।

2.प्रतिबद्धता (Commitment):-

अल्बर्ट आइंस्टीन के विचार–
“एक सफल बनने की कोशिश न करें, बल्कि एक मूल्य बनने की कोशिश करें।”

अपनी लाइफ में सक्सेस पाने के लिए अपने लक्ष्य के प्रति commitment बहुत ही जरूरी है। क्योंकि जब तक आप खुद को अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित नहीं होंगे तब तक आप एकाग्रचित होकर  लक्ष्य की ओर नहीं बढ़ सकते। 
 विवेकानंद जी ने कहा था-
” एक विचार लो, उस विचार को अपना जीवन बना लो। उसके बारे में सोचो उसके सपने देखो, उस विचार को जियो! अपने मस्तिष्क मांसपेशियों, नसों शरीर के हर हिस्से को उस विचार में  डूब जाने दो, और बाकी सभी विचारों को किनारे रख दो ! यही सफल होने का तरीका है।”

स्वामी विवेकानंद जी का यह विचार हमें अपने लक्ष्य के प्रति पूरी तरह से समर्पित होने का उपदेश देता है।

3. Responsibility  (उत्तरदायित्व):

George Gritter के विचार-
“कर्तव्य जो एक इच्छा बन जाता है अंत में एक खुशी बन जाएगा।”

हर मनुष्य का अपने समाज के प्रति कुछ उत्तरदायित्व होते हैं। जो व्यक्ति अपने समाज के प्रति अथवा अपने कर्तव्यों के प्रति संवेदनशील होता है, वही जीवन में सफल होता है।

यही कर्तव्य या उत्तरदायित्व हमारे अंदर प्रेरणास्रोत का कार्य करता है।और हमारे अंदर Desire और commitment को प्रबल करता है। और हमारी सफलता में महत्वपूर्ण योगदान देता है।

4. जीवन में सफलता के सूत्र: Hard Work

 एपीजे अब्दुल कलाम के विचार-
” सपने वो नहीं है जो आप नींद में देखे, सपने वो  है जो आपको नींद ही नहीं आने दे।”
जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए Hard Work अपरिहार्य है। यदि आप सफल होने के लिए कोई छोटा रास्ता (short cut) ढूंढ रहे हो तो ढूंढना बंद कर दो। क्योंकि ऐसा संभव नहीं है। आपको कठिन परिश्रम करना ही होगा। तभी आप जीवन में अथवा अपना कैरियर बनाने में सफल हो सकते हैं।

आज के समय में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो हार्ड वर्क करते हैं। लेकिन उनमें से सभी लोग सफल नहीं हो पाते हैं। ऐसा क्यों? ऐसा इसलिए है क्योंकि आज के समय में कंपटीशन काफी बढ़ गया है। अगर आप उसी पुराने ढर्रे पर चलना चाहेंगे, तो सफलता संभव नहीं है।

आपको हार्डवर्क तो करना ही है लेकिन स्मार्ट तरीके से।यानी smart Hard Work करना पड़ेगा। आप रिसर्च करो और उसके बाद Hard Work करो। 

अगर आप ऐसा कर पाते हैं तो निश्चित ही आप सफल हो पाएंगे।

5.Positive Thinking:-सकारात्मक सोच:-

किसी ने कहा है-
” एक सकारात्मक सोच वाला व्यक्ति अदृश्य को देख लेता है, अमूर्त को महसूस करता है और असंभव को पा लेता है।”

जब आप कोई लक्ष्य निर्धारित करते हैं और उस पर काम कब तक करते हैं? आप खुद सोचो! यह आप तभी तक पूरे मन से करते हैं। जब तक आपके अंदर यह विचार / विश्वास रहता है कि आप कर सकते हो। जैसे ही यह सकारात्मक विचार कमजोर पड़ने लगता है यानी निराशावादी विचार पनपने लगता है। आप लक्ष्य से भटकने लगते हैं। लक्ष्य आपसे दूर जाने लगता है। सफल होने के लिए इसी सकारात्मक विचार को दृण  बनाकर रखना होगा। 
सफल जीवन के नियम हमें एपीजे अब्दुल कलाम जी से सीखना चाहिए।

सकारात्मक सोच की शक्ति की बदौलत ही एक सामान्य परिवार के घर में पैदा होकर डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम ने दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र का राष्ट्रपति बने। डॉक्टर कलाम के कड़े संघर्ष और उनकी सकारात्मक विचार ही उनको इतनी बड़ी उपलब्धि के योग्य बनाया।

सकारात्मक विचार को दृढ़ बनाए रखने के लिए डॉक्टर  एपीजे अब्दुल कलाम जी ने  कहा था, कि हर सुबह पांच बातें अपने आप से बोलो-
* मैं सबसे अच्छा हूं।
* मैं यह कर सकता हूं।
* भगवान हमेशा मेरे साथ है।
* मैं एक विजेता हूं।
* आज का दिन मेरा है।
आप डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम जी के इन विचारों को अपनाकर अपने जीवन में एक सकारात्मक शक्ति का विकास कर सकते हैं और अपने लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

6. The Power of Persistence:       सफलता के टिप्स

आप एक बार अपना लक्ष्य निर्धारित कर लेते हो, तो  उस पर अडिग रहो। जब आप एक बार ठान  लिया, तो फिर उसको करो। अपने लक्ष्य को बार-बार बदलना बंद करो तभी आप सफल हो पाओगे।

जीतन राम मांझी का नाम सुने होंगे आप लोग जिन्होंने दृढ़ इच्छाशक्ति के कारण एक पहाड़ को तोड़ने में सफलता प्राप्त की। उन्होंने बोला था -“जब तक तोड़ेंगे नहीं तब तक छोड़ेंगे नहीं।” अपने लक्ष्य को त्यागने की भावना को छोड़कर वैसे ही दृढ़ता लाइए, तभी आप अपने लक्ष्य को प्राप्त कर पाएंगे।

जीवन में सफलता पाने के तरीके (7) लक्ष्य बनाने के बाद कोशिश शुरू कर दें। सब कुछ भाग्य भरोसे  ना छोड़ें। पृथ्वी पर उपस्थित प्रत्येक जीव अपने अस्तित्व के लिए मेहनत करता है। आपको तो एक लक्ष्य भेदना है। आप चाहे जो भी लक्ष्य निर्धारित की है, उसको पाने के लिए परिश्रम करें और रिस्क ले।

सफलता के टिप्स (8):- सफल होने के लिए समय के Importance को समझें। कभी भी समय को बर्बाद (Time waste) करने से बचें, क्योंकि समय का सदुपयोग ही आपको लक्ष्य तक पहुंचाएगा।

सफलता के टिप्स (9):- बड़े लक्ष्य को छोटे-छोटे लक्ष्यों में विभाजित कर ले। जिसे निर्धारित किए गए समय में पूरा करें। जैसे जैसे आप इन टुकड़ों में विभाजित लक्ष्यों को पूरा करते जाएंगे। लक्ष्य आपके नजदीक आता जाएगा।

सफलता के टिप्स (10):- अपने सपने (लक्ष्य) को हमेशा जीवित रखें। इसके लिए रोजाना कुछ समय लक्ष्य को Imagine करें। आपका सपना आपके मन पर हावी होना चाहिए क्योंकि मन बहुत चंचल होता है। बिना लक्ष्य के मन का भटकाव बढ़ता है।

हमने आपको Success Tips In Hindi में जीवन में सफलता पाने के 10 बेहतरीन टिप्स के बारे में चर्चा की। इसके अलावा आप हर सफल मनुष्य की उन असफलताओं से सीखो। जिसको उन्होंने पार करके अपनी सफलता को सुनिश्चित किया। आप असफल होने का खुद पर प्रयोग मत करो। बल्कि ऐसे सफल लोगों से सीखो। जिन्होंने अपने जीवन में स्वाभाविक असफलताओं का सामना किया। और इन असफलताओं से सीखकर सफलता प्राप्त की।
        ——******——
 दोस्तों हमारा यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं। मैंने यह आर्टिकल कुछ किताबों से जानकारी प्राप्त कर बनाई है। मुझे आशा है आपको पसंद आएगा।


  



Leave a Comment